वैसे तो भगवान गणेश शुभ फल दाता हैं लेकिन उनके इस अंग को देखने से आ सकती हैं मुश्किलें

हिंदू धर्म में मानने वाले लोग जब भी कोई मंगल कार्य शुरू करते हैं तो उससे पहले भगवान गणेश को जरुर पूजते हैं. ऐसा कहा जाता है कि गणेश जी की पूजा-अर्चना करने से मंगल कार्य में किसी भी प्रकार का विघ्न नहीं आता. गणेश जी को ऋद्धि-सिद्धि का दाता भी कहा जाता है और उनके मुख के दर्शन करने मात्र से ही लोगों की कई परेशानियां दूर हो जाती हैं. इसीलिए हिंदू धर्म में गणेश जी में आस्था रखने वाले लोगों की संख्या बहुत ज्यादा है. आज भगवान गणेश के बारे में हम आपको एक ऐसी जानकारी देने जा रहे हैं जिसे जानना बहुत जरुरी है नहीं तो आपको कई परेशानियां आ सकती हैं.

source

दरअसल हिंदू शास्त्रों के अनुसार गणेश जी की पीठ देखना अच्छा नहीं माना जाता. शास्त्रों के अनुसार गणेश भगवान की पीठ में दरिद्रता का वास होता है और उनकी पीठ के दर्शन करने से दरिद्रता आती है. अगर आप भी अनजाने में कभी गणेश जी की पीठ देख लें तो उसके बाद गणेश जी के मुख का दर्शन कर लें इससे पीठ देखने के बुरे प्रभाव खत्म हो जाते हैं. अगर आप जानबूझकर गणेश जी की पीठ देखते हैं तो इसके आपको बुरे परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं.

source

इसके अलावा कभी भी एक घर में तीन जगहों पर गणेश जी की अलग-अलग मूर्तियों की पूजा नहीं करनी चाहिए इसके भी गलत परिणाम हो सकते हैं. इसके अलावा अगर आप कार्यालयों में गणेश जी की मूर्ति लगाते हैं तो ध्यान रखें कि मूर्ति का मुख दक्षिण-पश्चिम दिशा की ओर न हो.