800 रूपये की नौकरी करने वाले ये शख्स आज हैं बॉलीवुड के बेताज बादशाह, नाम जानकर यकिन नहीं होगा

बॉलीवुड इंडस्ट्री में कई ऐसे अभिनेत्री और अभिनेता है जिन्होंने अपने करियर की शुरूआत में तरह-तरह की मुश्किलों का सामना किया, यहां तक कि उन्हें इंडस्ट्री में फलॉप बताए जाने के बाद भी उनकी कोशिश और हिम्मत ने आज उन्हें एक बड़ा नाम दे दिया है. ये प्रसिद्ध होने के साथ-साथ रोडपति से करोड़पति तक बन चुके है. आज हम आपको एक ऐसे मशहूर अभिनेता के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्होंने कभी 800 रूपये से नौकरी की थी और आज वो करोड़ो की समपत्ति के मालिक है.

आज हम आपको फिल्मी दुनिया के बादशाह कहे जाने वाले अमिताभ बच्चन के बारे में बताने जा रहे है, जिन्हें आज के समय कोई जानता है. आपको बता दें कि इन्होंने वो दौर देखा है, जब इन्हें फिल्मों में काम नहीं दिया जाता था. इनकी ज्यादा लंबाई होने के वजह से इनके साथ कोई भी अभिनेत्री काम नहीं करना चाहती थी, लेकिन आज हर कोई इनके साथ काम करना पसंद करती हैं. इनकी केवल आवाज से ही लोगों की नजरें उन पर टिक जाती हैं. आपको बता दें कि एक समय पहले इनकी आवाज को आकाशवाणी ने नकार दिया था.

भारी आवाज के चलते नहीं मिला था काम

अमिताभ बच्चन ने बॉलीवुड इंडस्ट्ररी में कदम रखने से पहले ‘आकाशवाणी’ में भी आवेदन किया था, लेकिन इनकी भारी आवाज होने के वजह से इनको उधर काम नहीं दिया गया. वहीं इनकी भारी आवाज के वजह से इनको फिल्म रेशमा और ‘शेरा’ में मूक भूमिका निभानी पड़ी.

800 रुपए की नौकरी से शुरू की थी कमाई

आपको बता दें कि अमिताभ का रूझान एक्टींग की ओर ज्यादा था, जिस वजह से उन्होेंने साल 1968 में अपनी नौकरी छोड़ दी और मुंबई आ गए. जिसके बाद इनकी पहली फिल्म साल 1969 में आई थी, जो बॉक्स ऑफिस में कुछ खास नहीं चली.

आपको बता दें कि साल 1971 में अभिनेता राजेश खन्ना जोकि उस वक्त फिल्मों में काफी छाय हुए थे, उनके साथ अमिताभ बच्चन को फिल्म “आनंद” में काम करने का मौका मिला. जिस वजह से इन्होंने दर्शकों का ध्यान अपनी तरफ खींच लिया और लोगों के बीच अपनी थोड़ी बहुत पहचान बना ली. बता दें कि इन्हें सहायक अभिनता का फिल्म फेयर अवार्ड भी मिला था.

अमिताभ की किसम्त एकदम से साल 1973 में आई  फिल्म जंजीर नेबदल डाली. बता दें कि  इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर इस कदर धमाल मचाया था, जिससे अमिताभ को फिल्म इंडस्ट्री में एक नई पहचान मिल गई थी और अब हर कोई इन्हें जानने लगा था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *