नहीं रहा राम रहीम का ये खास शख्स, जिसने राम रहीम के सपोर्ट में की थीं पुलिसवालों को कुचलने की कोशिश 

साध्वी यौन शोषण मामले में सजा काट रहे डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख राम रहीम किसी ना किसी मामले में सुर्खियों में आते रहते हैं. राम रहीम ने जिनता ही बड़ा पाप किया है उससे भी ज्यादा अपराधी इस पाप में जुड़े हैं. इस पाप में जुड़ा एक आरोपी हरियाणा पुलिस में कार्यरत जवान और राम रहीम का सुरक्षा गार्ड राम सिंह भी था. राम सिंह को लेकर बेहद बुरी खबर सुनने में आई है. इस घिनौने कांड में शामिल होने के बाद राम रहीम ने आज सल्फास की गोलियां खाकर आत्महत्या कर ली.

पंचकूला में हुई हिंसा के बाद राम रहीम के गार्ड को ड्यूटी से दिया था. एक तरफ जहां राम रहीम और उनकी बेटी हनीप्रीत को गिरफ्तार किया गया था. वहीं दूसरी तरफ राम सिंह पर हिंसा फैलाने का आरोप लगा था. पुलिस ने राम सिंह का शव कब्जे में लेकर खोजबीन शुरू कर दी है. शंकर मंदोरी के रहने वाले राम सिंह ने क्यों और किस वजह के चलते आत्महत्या की इस बात का किसी को नहीं पता चल पा रहा है.

गौरतलब है, पिछले साल 25 अगस्त को राम रहीम को साध्वी यौन शोषण मामले में दोषी करार दिया गया था. राम रहीम की गिरफ्तारी की खबर सुनते ही पूरे हरियाणा में दंगा पसर गया था, मारा-काटी शुरू हो गई थी. एक तरफ गाड़ियां फूंकी जा रही थी.

वहीं दूसरी तरफ इस घिनौने कांड में राम रहीम के साथी और बेटी हनीप्रीत इस दंगे को बढ़ाने की कोशिश कर रहे थे. जिससे की कानून इसे झूठ मानें औरु राम रहीम को रिहाई मिल जाये लेकिन ऐसा नहीं हुआ. राम रहीम के साथ उनके साथियों को भी सजा मिली. दंगे के वक्त राम रहीम ने मौका देेखकर पंचकूला कोर्ट के बाहर जैमर गाड़ी से पुलिसवालों को कुचलने की कोशिश की थीं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *