बाहर से खस्ताहाल दिख रहा था घर, अंदर का नजारा देखकर पुलिस की निकल गई चीख

मेरठ के लिसाड़ी गेट में एक ऐसा मकान जिसमें बने तहखाने के बारे में वहां के पड़ोसी भी नहीं जानते थे कि मकान के अंदर क्या है और क्या काम होता है. किसी को कानों-कान खबर भी नहीं थी उनके पड़ोस में ही इतने बड़े अपराध को अंजाम दिया जाता है. शायद मकान की हालत देखकर कोई अंदाजा भी नहीं लगा सकता था, क्योंकि मकान बाहर से जितना ही खस्ताहाल में दिखता था उसके अंदर उतना ही बड़ा काम होता था. काफी समय बाद जब दिल्ली पुलिस को उस मकान में कुछ गड़बड़ होने की आंशका लगी तो पुलिस ने दबे पाव मकान में छापा मार दिया उसके बाद जो नजारा सामने आया. उसे देखकर पुलिस वालों को चीख निकल गईं.

दरअसल मकान के अंदर एक तहखाना जाता है जहां काफी समय से अवैध हथियारों को बनाने का कारोबार जोरों-शोरों से चल रहा था. अवैध हथियार बनाने वाले कोई यहां के कारीगर नहीं थे बल्कि मुंगेर से कारीगरों को बुलाया गया था. पुलिस ने जब दबे पाव तहखाने में एंट्री तो देखा कई कारीगर पिस्टल और तमंचे बनाने में लगे हुए थे.

पुलिस को देखकर ही तहखाने में अफरा-तफरी मच गईं. पुलिस ने अवैध हथियार बनाने वाले तीन आरोपियों को रंगेहाथ पकड़ लिया जबकि अभी कुछ लोगों को गिफ्तार करने पुलिस खोजबीन में ंजुटी है.

बताया जा रहा है कि अवैध हथियारों का कारोबार इतना बड़ा था कि देश के कई राज्यों के अलावा विदेशों में भी सप्लाई किये जाते थे. दिल्ली पुलिस ने कई बार ऐसे हथियारों को पता चला था लेकिन हर बार इसके मेन गिरोह तक पहुंचने में असमर्थ हो रही थी. जिसके बाद पुलिस ने अब खोजबीन कर सटीक जानकारी पाने में सफल हुई.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *